मुख्यपृष्ठ

भादरा : क्रांतिकारियों की धरती (Bhadra: Land of Revolutionaries)

भादरा : क्रांतिकारियों की धरती (Bhadra: Land of Revolutionaries)

भादरा : क्रांतिकारियों की धरती (Bhadra: Land of Revolutionaries)‘भादरा’ राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में एक ऐतिहासिक कस्बा है। इसका इतिहास वैदिक से लेकर महाभारत काल और मुगलिया सल्तनत से लेकर राजे-रजवाड़ों के दौर तक फैला रहा। अनेक इतिहासकारों ने बार-बार लिखा है कि जांगल प्रदेश के उत्तरी छोर पर बसा ‘भादरा’, भादरा व नोहर का यह इलाका वैदिक काल में सप्तसैंधव क्षेत्र का हिस्सा था, जिसे हिरण्यवती, दृाद्वती, कौािकी, रोहित व सरस्वती जैसी सात नदियां सींचती थीं, इस इलाके में मिलने वाले शंख, सीपियां,करियां व नर कंकाल इस बात का प्रमाण हैं कि किसी समय यहां मानव सभ्यता फली-फूली थी। ज्यादा... ...
श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ जैन भैरव मंदिर (Shri Nakoda Parshvanath Jain Bhairav ​​Temple)

श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ जैन भैरव मंदिर (Shri Nakoda Parshvanath Jain Bhairav ​​Temple)

श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ जैन भैरव मंदिर (Shri Nakoda Parshvanath Jain Bhairav ​​Temple)बाड़मेर का बालक बोला मैं यहाँ का क्षेत्रवासी भैरव-देव हूँ और आप महान जैन आचार्य श्री हैं, आप इस तीर्थ का विकास करें मैं आपके साथ हूँ परन्तु मुझे भगवान पार्श्वनाथ जी के मंदिर में एक आले (दीवार) में विराजमान करो। श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ जैन भैरव मंदिर, बाड़मेर राजस्थान नाकोड़ा जिला बाड़मेर राजस्थान के बालोतरा रेलवे स्टेशन से १३ किलोमीटर एवं मेवाड़ सिटी से १ कि.मी. दूर पर्वतीय श्रृंखलाओं के मध्य स्थित है। विश्वविख्यात जैन तीर्थ श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ, इस तीर्थ क्षेत्र के आस-पास का इतना प्राकृतिक और मनोहर है... ...
किराड़ू का अनोखा प्राचीन मंदिर, बाड़मेर(Unique ancient Temple of Kiradu, Barmer)

किराड़ू का अनोखा प्राचीन मंदिर, बाड़मेर(Unique ancient Temple of Kiradu, Barmer)

किराड़ू का अनोखा प्राचीन मंदिर, बाड़मेर(Unique ancient Temple of Kiradu, Barmer) : किराड़ू प्राचीन मंदिर, पांच मंदिरों का एक समूह है जो बाड़मेर से ३९ किलोमीटर की दूरी पर हाथमा गाँव में स्थित है। ११६१ के एक शिलालेख से पता चलता है की हाथमा को पहले ‘किरतकूप’ के नाम से भी जाना जाता था जो पहले पनवारा वंश की राजधानी भी थी। इस मंदिर के विषय में एक किवदंती बड़ी मशहूर है जो इसे और मंदिरों से अलग बनाती है, इस इलाके के स्थानीय लोगों की माने तो एक साधु के शाप ने इस मंदिर को पत्थरों की नगरी में बदल... ...
वस्त्र नगरी बालोतरा (Textile City Balotra)

वस्त्र नगरी बालोतरा (Textile City Balotra)

वस्त्र नगरी बालोतरा (Textile City Balotra) :‘बालोतरा’ शहर है बाड़मेर जिला, राजस्थान राज्य में भारत का एक भूभाग है। यह जोधपुर से लगभग १०५ किमी दूर है। यह शहर हैंड ब्लॉक प्रिंटिंग और टेक्सटाइल उद्योग और तिलवाड़ा में एक वार्षिक रेगिस्तान और आदिवासी मेले के लिए जाना जाता है। यह शहर जोधपुर से नियमित अंतराल पर रेल और बसों द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। बालोतरा से जालौर (१४ किमी) की ओर असोत्रा गाँव में भारत का तीसरा ब्रह्मा मंदिर है। बालोतरा से बाड़मेर (११ किमी) भगवान श्री विष्णु के प्राचीन मंदिर के गांव में श्री विष्णु का (दुनिया का... ...
तत्त्वज्ञ श्रावक मुलतान मल बैद का संक्षिप्त परिचय (Brief introduction of the philosopher Multan Mal Baid)

तत्त्वज्ञ श्रावक मुलतान मल बैद का संक्षिप्त परिचय (Brief introduction of the philosopher Multan Mal Baid)

तत्त्वज्ञ श्रावक मुलतान मल बैद का संक्षिप्त परिचय (Brief introduction of the philosopher Multan Mal Baid) : चाड़वास: अद्भुत सादगी, सहनशीलता, समता और सरलता के प्रतीक अध्यात्म पुरुष पूज्य पिताजी श्री मुलतान मल जी बैद का जीवन आज की पीढ़ी और आने वाली पीढ़ियों के लिए अति प्रेरणा दायक है। अक्सर हमें कई विद्वान विभूतियों, तत्त्ववेताओं और अध्यात्मजनों के बारे में जानने व सुनने को मिलता है। कभी-कभी यह प्रश्न उठ सकता है, इतना सारा आध्यात्मिक ज्ञान और तात्त्विक ज्ञान किसलिए, हमारे दैनिक जीवन में इनकी क्या प्रासंगिकता है? इस तरह के प्रश्नों के जवाब हमें पूज्य पिताजी के जीवन से... ...